Backlink Kya Hai और इसके फायदे क्या है

Backlink SEO की दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले शब्दों में से एक है, ज्यादातर नये ब्लॉगर का ये सवाल Backlink Kya Hai और इसके फायदे क्या है .

Backlink Kya Hai और इसके फायदे क्या है

आज मैं आपको इस पोस्ट में ये बताने की कोशिश करूँगा कि Backlinks क्या होते है, और ये SEO के लिये क्यों जरुरी होते है, ये आपके ऑनलाइन business को सफल बनाने के लिये क्यों जरुरी होते है . यहाँ पर आपको मैं ये भी बताऊंगा कि कैसे आप अपने Competitor के बैकलिंक का विश्लेषण करे, और उनका कैसे आप अपने website के लिये उपयोग करे .

Backlink Kya HaiWhat is Backlink

बैकलिंक्स एक वेबपेज से आने वाले लिंक होते है .

जब कोई वेबपेज किसी दुसरे वेबपेज से लिंक किया जाता है, तो उसको backlink बोला जाता है . पहले, वेबपृष्ठ की रैंकिंग के लिए बैकलिंक प्रमुख factor होते थे . Google सहित सभी प्रमुख search इंजनों पर High Quality के backlink वाले पेज आज भी रैंक कर रहे है, यह अभी भी काफी हद तक सही है .

Backlinks के कुछ जरुरी terms जिसे आपको जानना चाहिये

Link Juice : जब कोई web-page किसी article या किसी website के homepage से जुड़ता है, तो वो Link Juice पास करता है . ये Link Juice article के ranking में मदत करते है और Domain Authority ( DA )भी improve होती है . आप Link Juice को रोकने के लिये No Follow टैग का इस्तेमाल कर सकते है .

Anchor Text : Hyperlinks के लिये उपयोग होने वाले text को Acchor Text कहा जाता है . जैसे कोई जब आपकी site के text को किसी और site से कॉपी करके सर्च करके आपके site पर आता है .

Linking Root Domains : यह आपके website को किसी Unique Domain से प्राप्त होने वाले backlinks की संख्या को रेफ़र करता है जैसे कोई website आपके site से कई बार लिंक है तो use सिर्फ एक ही link root domain समझा जायेगा .

Internal Links : जब एक ही Domain के अन्दर एक पोस्ट से दुसरे पोस्ट पर लिंक दिया जाता है, तो उसे Internal Linking कहा जाता है, जिसका उपयोग हम अपने blog पोस्ट में एक पोस्ट से दुसरे पोस्ट पर जाने के लिये करते है .

External Links : जब आप अपने ब्लॉग पोस्ट पर किसी और site का लिंक देते है, तो use External Link कहते है . बाहरी site के लिंक से भी SEO में सहायता मिलती है .

Backlinks कितने प्रकार के होते हैं

सामान्य तौर पर Backlinks दो प्रकार के होते है पहला – Do- Follow Link और दूसरा – No-Follow Link .

Do-Follow Link : आपके blog में आपके द्वारा लिंक किये जाने वाले सभी लिंक डिफ़ॉल्ट रूप से Do Follow ही होते है और Link juice पास करते है, जिसको सर्च इंजन द्वारा follow किया जाता है . dofollow backlink में कोई भी attribute नही रहता है .

for example : <a href =”yourblog.com”> link text </a>

No-Follow Link : जब कोई website किसी दुसरे website से link होती है और लिंक जूस पाद नहीं करता है , तो ऐसी जगह पर एक नो-फॉलो टैग का इस्तेमाल हुआ रहता है . पेज ranking में No Follow Link कोई उपयोग नहीं होता है क्योंकि उसमे इसका कोई role नहीं होता है . सामान्य तौर पर जब कोई किसी अविश्वसनीय site से लिंक देते है तो ऐसी स्थति में वो नो-फॉलो टैग का इस्तेमाल करते है .

for example : <a href =”yourblog.com” rel=”nofollow”> link text </a>

Backlinks के फायदे / Advantage of Backlinks

Backlinks के फायदे के बारे में जानने से पहले इसके बारे में कुछ जानते है .

पहले कोई भी Backlinks कहीं से भी मिली हो चाहे वो अच्छी quality के हो या न हो फिर भी ranking में मदत करते थे, लेकिन बाद में Google ने Penguin algorithm लाया और तब से backlinks को परिदृश्य Change हो गया है .

अच्छे क्वालिटी के website से प्राप्त लिंक बहुत ही महत्वपूर्ण होते है . यदि आप किसी site से backlinks प्राप्त करने की कोशिश कर रहे है, तो आपको ये हमेशा ध्यान रखना चाहिये कि वो site भी उसी के बारे में होना चाहिये जिसके बारे में आपने जानकरी दी है, यदि वो किसी और टॉपिक से related site है तो उस backlink को कोई महत्व नहीं है .

1. Improves Organic Ranking

जब आपके site को और आपके पोस्ट को किसी दूसरी website से लिंक organic लिंक मिलेगा तो आपके site की भी सर्च इंजन में अच्छी ranking होगी और आपके जिस कन्टेन्ट को organic लिंक मिलेगा वह भी उसके साथ सर्च में आएगा .

यहाँ पर आपको अच्छी क्वालिटी के backlinks बनाने की जरुरत है, और आप अपने Homepage के साथ-साथ पोस्ट के भी Backlinks बनाने की कोशिश करें .

2. Search Engine Fast Index Your Site

Search Engine जब किसी पोस्ट को index करता है, तो वह यह भी देखता है कि site को कहाँ से backlinks मिल रहे है और जहाँ से इसको लिंक मिल रहे है वो किस बारे में है और ये article किस बारे में है . Backlinks से सर्च इंजन को ये सब समझने में आसानी होती है .

किसी भी नयी site को शुरुवाती समय में ज्यादा से ज्यादा कोशिश backlinks बनाने की कोशिश करनी चाहिये, जिससे site की faster indexing में मदत मिल सके .

3. Referral Traffic

Backlinks के दुसरे फायदे के साथ-साथ एक बहुत बड़ा फायदा Referal Traffic का भी होता है, मतलब वो traffic जो आपके blog पर किसी सर्च इंजन से organic सर्च के द्वारा न आकर, किसी दुसरे site के लिंक के द्वारा आते है .

इससे एक फायदा और भी होता है कि site का bounce rate भी कम होता है .

Blog Ke Liye High Quality Backlink कैसे बनाये

ज्यादातर नए ब्लॉगर के मन में ये सवाल जरुर रहता है कि Backlink कैसे बनायें क्योंकि ब्लॉग सफल बनाने के लिये और Organic Traffic पाने के लिये ये बहुत जरुरी होता है .

यहाँ पर आपको ये ध्यान देना है कि सर्च इंजन ये नहीं देखता है कि आपके site पर कितने backlink है या कहाँ-कहाँ से लिंक मिल रहे है , यहाँ पर सबसे ज्यादा जरुरी ये होता है कि आपके site पर High Quality Backlink कितने है .

इसीलिए आपको किसी भी Backlink बनाने वाली paid service का इस्तेमाल नहीं करना चाहिये नहीं तो Google द्वारा आपको penalized भी किया जा सकता है .

1 . Quality Content लिखें

ये सबसे बेस्ट और आसान तरीका है backlinks प्राप्त करने का, आपको अपने ब्लॉग पर क्वालिटी कन्टेन्ट लिखने की कोशिश करनी चाहिये, क्योंकि क्वालिटी कन्टेन्ट को visitor भी पसंद करते है और सर्च इंजन भी ऐसी site को पसंद करता है, ऐसी site जल्दी ranking में आ जाती है .

2. Commenting शुरू करें

Comment करके backlinks प्राप्त करना सबसे सरल प्रक्रिया है .

इसीलिए आपको आज से अपने blog niche से related site पर comment करके backlink बनाना शुरू कर देना चाहिये . comment करते समय अपना यूआरएल टाइप करना न भूलें .

इससे आपको No Follow Link मिलता है, वैसे ये बहुत ज्यादा उपयोगी तो नहीं होते है, लेकिन दिए हुये link से आपके ब्लॉग पर भी traffic आयेगी .

3 . Guest Posting करें

एक अच्छी क्वालिटी के backlinks बनाने के मामले में Guest Posting आज कल काफी ज्यादा पोपुलर हो रहा है . इस प्रकार से backlink प्राप्त करने के लिये आपको किसी पोपुलर ब्लॉग पर पोस्ट लिखना होता है और उसमे अपना लिंक देना रहता है . इससे उस पोपुलर blog पर अपने site को promote भी कर सकते है और आपके site पर भी traffic आपने लगेगी .

4 . Site को Web directories में submit करें

backlinks प्राप्त करने का ये तरीका भी काफी सरल है . इसमें आपको अपने blog या website को किसी web directories में submit करना रहता है, जिससे आपको वहां से एक backlink प्राप्त होता है . ये प्रक्रिया अब पहले से काफी कम हो गयी है क्योंकि एक legal web directory का पता करना आसान काम नहीं है .

5 . अपने competitors को फॉलो करें

एक अच्छी quality के backlink बनाने का ये बहुत ही बढ़िया तरीका है . इसमें आपको अपने competitors को follow करना है, यहाँ पर आपको ये देखना है कि जो आपके टॉपिक से related site top ranking में है वो कहाँ से backlink प्राप्त कर रहे है, उसी जगह से आपको भी backlink बनाना है .

इसके लिये आपको उनको यूआरएल को कॉपी कर लेना है और किसी भी backlink Checker Tool का use करके उनके backlink का पता कर लेना है, उसके बाद वही से आपको भी backlink बनाना है .

आशा करते है कि आपको Backlink Kya Hai और Backlinks कैसे बनाये इसके क्या फायदे है in सबके बारे में जानकरी मिल गयी होगी और आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिये अच्छी क्वालिटी का backlink बना सकते है .

आपको यदि backlink Kya Hai और Backlink कैसे बनाये जानकारी अच्छी लगी हो, तो शेयर करना न भूलें .

Related posts

SEO Kya Hai – What is SEO in Hindi एसईओ कैसे करें 2020

Narendra

Link Building In SEO क्या है और आपकी वेबसाइट के लिये कैसे फायदेमंद है

Narendra

On Page Seo क्या है और कैसे करते है, इसके फायदे क्या है

Narendra

Leave a Comment