USB Full Form In Computer / USB kya hai

What is USB, USB kya hai, USB full form in Computer – दोस्तों आज हम जानेंगे USB के बारे में USB क्या है , USB का पूरा नाम क्या है , USB कितने प्रकार का होता है , प्रत्येक USB की क्या विशेषतायें है , USB के फायदे क्या है , USB के use है ,USB से सम्बंधित और भी जरुरी जानकारी को जानेंगे .

USB Full Form In Computer

USB Full Form In Computer

USB फुल फॉर्म क्या है

USB Full Form in English

Universal Serial Bus

USB Full Form in Hindi / USB यूएसबी का पूरा नाम हिन्दी में क्या है

यूनिवर्सल सीरियल बस

USB kya hai

USB एक ऐसी technology है जिसकी सहायता से से हम power को या data को आसानी से एक device से दुसरे device में भेज पाते है . इस technology के द्वारा सभी device को जिसमे data या power होता है उसको एक दुसरे से connect किया जा सकता है . USB के द्वारा हम अपने मोबाइल को charge करते है . USB के द्वारा ही अपमे smartphone को computer से connect करते है .

USB ka Itihas kya hai / History of USB

USB को 1996 में सबसे पहले launch किया गया था . USB को बनाने की शुरुआत 7 कम्पनियों ने मिलकर किया था . Intel, Microsoft, IBM, Compaq, Dec, Nortal And Nec

USB का सबसे पहला Standard अजय भट्ट जी ने तैयार किया था जो Intel कंपनी की टीम में शामिल थे .उसके बाद से अबतक USB के कई संस्करण आ चुके है आइये जानते उसके बारे में .

USB Versions Kya Hai

USB को सबसे पहले सन 1996 में लांच किया गया था जिसके बाद से USB के लगभग 6 version आ चुके है आइये जानते है इनके संस्करण के बारे में .

USB 1.0

USB Version 1.0 को January 1996 में launch किया गया था , यह USB का सबसे पहला Version था . इस USB की speed लगभग 1.5Mbit/s थी उस समय इतने ज्यादा devices उपलब्ध नहीं थे और लोग फ्लॉपी ड्राइव का इस्तेमाल करते थे इसीलिये इसका ज्यादा use नहीं किया गया .

USB 1.1

इसको USB 1.0 के दो वर्ष बाद यानी 1998 में मार्केट में launch किया गया यह USB 1.0 से कई मामलो में बहुत आगे था इसके द्वारा 12MBit/s की speed तक data को transfer किया जा सकता था . इसकी एक और विशेषतायें भी थी जिसके द्वारा होस्ट से पेरिफेरल में2.5V और 500mA का पॉवर भी supply किया जा सकता था .

USB 2.0

USB 2.0 को April 2000 में मार्केट में launch launch किया गया था . USB 2.0 को Intel,Microsoft,Compaq ने मिलकर develop किया था , यह USB का बहुत ही सफल Version माना जाता है .

इस USB को बहुत ही success version माना जाता है क्यूंकि इसी को सबसे ज्यादा devices में use किया गया है और आज भी ज्यादातर devices में यही देखने को मिलता है . इस USB की data transfer करने की speed 480 Mbps(Mega Bite Per Second) है और इससे 2.5v और 1.8 A का होस्ट से पेरिफेरल में Power भी Supply कर सकते है .

USB 3.0

USB 3.0 को November 2008 में मार्केट में launch किया गया था , USB 2.0 को थोड़ा और improve किया गया है इसलिए इसमें USB 2.0 से बहुत ज्यादा बदलाव देखने को नहीं को मिलते है लेकिन इसकी डाटा ट्रान्सफर स्पीड को बढाकर 5 GBPS (Giga Bite Per Second) कर दिया गया, जो की USB 2.0 से बहुत ज्यादा है .

USB 3.1

यह USB 3.0 को थोड़ा और improve करके बनाया गया जो USB 3.1 है इसको सन 2013 में launch किया गया था इसके द्वारा 20v और 5a तक Power Supply कर सकते है .

इस USB की data transfer करने की speed और ज्यादा बढ़ा दी गयी थी , USB 3.1 में 10 Gbps(Giga Bite Per Second) की speed से data को transfer किया जा सकता है जो USB 3.0 से लगभग दोगुनी है .

USB 3.2

USB 3.2 को 2017 में market में launch किया गया ये अभीतक का latest version है , USB 3.2 में data को transfer करने की speed को दोगुना कर दिया गया है , USB 3.2 की data transfer करने की speed सबसे ज्यादा है 20 GBPS (Giga Bite Per Second) .

USB 3.2 को device में किसी भी तरह से लगाया जा सकता है इसको लगते समय उल्टा या सीधा देखने की जरुरत होती है .

USB Ke Prakar / Types of USB

USB Connector 3 प्रकार के होते है .

  1. USB Type A
  2. USB Type B
  3. USB Type C
USB Type A
USB Type A

USB type A USB का सबसे ज्यादा use होने वाला कनेक्टर है . USB Type A फ्लैट होते है और ये बाकी Connector से थोड़े बड़े होते है . यह लगभग सभी computer और laptop में देखने को मिलेगा . USB Type A को Mouse , Keyboard , Pen Drive आदि में use किया जाता है .

USB Type B
USB Type B, USB full form in Computer

USB type B का use काफी कम किया जाता है . USB Type B चोकोर आकार के होते है और देखने में थोड़े बड़े भी होते है . इसका use ज्यादातर Printer , modem , Scanner आदि में किया जाता है . इसका use मोबाइल में भी किया जाता है .

USB Type C
USB Type C, USB full form in Computer

USB का यह कनेक्टर बहुत ही इनोवेटिव है यह साइज़ में छोटा होता है . USB Type C जरिये कैमरा, Mp3 प्लेयर और बाकी के छोटे डिवाइस को कंप्यूटर से जोड़ा जाता है .

इस USB को किसी भी तरह से use किया जा सकता है उल्टा उअर सीधा दोनों तरफ से use कर सकते है .

Mini USB Connector kya hai

आज के समय में जो connector मोबाइल में charging और data को transfer के लिये use किया जाता है उसको Mini USB Connector के नाम से जाना जाता है . यह Type B प्रकार का होता है . जिसको ज्यादा छोटा होने की वजह से Mini USB Connector कहा जाता है .

Micro USB Connector kya hai

पुराने Digital camera जो connector use किया जाता था और कुछ mobile company भी इस प्रकार के connector का use करती थी . यह Type A प्रकार का होता है .

USB ke fayde kya hai / Advantage of USB

  1. USB को बहुत आसानी से use किया जा सकता है .
  2. USB के द्वारा computer से अपने mobile में data को transfer किया जा सकता है .
  3. USB Multiple उपकरणों के लिए Single Interface होता है .
  4. USB के द्वारा हम आसानी से Devices को connect कर सकते है और Disconnect करके इसे दूसरी जगह भी ले जाया जा सकता है .
  5. USB का size काफी कम होता है .
  6. USB की data को transfer करने की speed काफी अच्छी रहती है .
  7. ये काफी सस्ता भी होता है .
  8. ये energy भी कम लेता है .

USB ke Disadvantage kya hai

  1.  USB 3.0 की data transfer करने की speed 5 Gbps तक है जो गीगाबिट ईथरनेट से बहुत कम है .
  2. सहकर्मी से सहकर्मी तक संचार (Peer to Peer Communication) का होना- यूएसबी के द्वारा मेज़बान व इनपुट-आउटपुट उपकरण के बीच संचार हो सकता है जबकि दो मेज़बान और दो इनपुट-आउटपुट उपकरण आपस में सीधे ही संचार नहीं कर सकते है .
  3. USB cable की लम्बाई काफी कम होता है इसका अधिकतम लम्बाई 5 मीटर तक ही रहता है .

Conclusion

दोस्तों आज हमने जाना USB के बारे में USB kya hai , USB full form in Computer क्या है , USB कितने प्रकार का होता है , प्रत्येक USB की क्या विशेषतायें है , USB के फायदे क्या है , USB के use है ,USB से सम्बंधित और भी जरुरी जानकारी को हमने जाना .

उम्मीद करते है आपको USB kya hai , USB full form in Computer USB से सम्बंधित सभी जानकारी पूरी तरह से समझ में आ गया होगा . यदि आपका इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप comment box में comment कर सकते है , हम आपके सवालों के जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे .

यह भी जानें…

  1. PDF क्या है , पीडीऍफ़ का पूरा नाम क्या है , पीडीऍफ़ फाइल कैसे बनाया जाता है .
  2. URL क्या है , URL का full form क्या है , यूआरएल के parts क्या होते है .

दोस्तों आपको USB kya hai , USB full form in Computer और USB से जुड़ी सभी जानकारी कैसी लगी और यदि आपका कोई सुझाव हो तो हमे comment करके जरुर बतायें और यदि आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Social Media पर शेयर जरुर करें .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *