PCS Full Form In Hindi / PCS kya hai

PCS kya hai, PCS full form In Hindi, PCS kaise Bane, PCS Exam – दोस्तों आज हम जानेंगे PCS के बारे में PCS कैसे बने , PCS क्या है , PCS का पूरा नाम क्या है , PCS क तैयारी कैसे करे , PCS के लिये योग्यता क्या है , PCS के syllabus क्या है , PCS के लिये age क्या है , PCS exam से सबन्धित और भी जरुरी जानकारी को हम जानेंगे .

PCS Full Form In Hindi

PCS Full form In Hindi

PCS का फुल फॉर्म जानते है

PCS / पीसीएस का पूरा नाम हिन्दी में

प्रांतीय सिविल सेवा

PCS Full Form In English

PROVINCIAL CIVIL SERVICE

PCS kya hai

PCS Full form In Hindi – प्रांतीय सिविल सेवा है . ये संस्था State level से related है। इसीलिए इसे state civil services के नाम से भी पहचाना जाता है . PCS , state government की नागरिक आधारित प्रशासनिक सेवाएं है . PCS ऑफिसर को राज्य आधारित लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित परीक्षा के द्वारा select किया जाता है . PCS की भर्ती और परीक्षा दोनों राज्य सरकर द्वारा की जाती है .

PCS Exam Kya Hai

PCS Exam राज्य सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाती है, जिसके द्वारा राज्य के भीतर विभिन्न आवश्यक रिक्त पदों को भरने के लिए इसका आयोजन किया जाता है , और ये पोस्ट state government के कंट्रोल में होते है और एक बार PCS में selection हो जाने के बाद किसी दुसरे राज्य में transfer नहीं किया जाता है .

PCS Kaise Bane

PCS बनने के लिए आपको राज्य सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रतियोगी परीक्षा को पास करना होगा . ये exam तीन स्तर पर आयोजित की जाती है प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार . प्रत्येक exam का एक syllabus होता है और सभी exam का एक निर्धारित syllabus होता है , जो exam को पास करने में सहायता करता है , क्योंकि इससे ये पता चल जाता है की आपको क्या पढना है .

PCS Ke Liye Yogyata

PCS का exam देने के लिये उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त University से Graduation होना जरुरी है , तभी आप PCS के exam में बैठ सकते है .

PCS के लिये उम्र ( PCS Ke Liye Age )

PCS के लिये उम्र सीमा सभी वर्ग के लिये अलग – अलग है निर्धारित की गयी है . PCS का exam देने के लिये उम्मीदवार की उम्र कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिये और अधिकतम 40 वर्ष हहोनी चाहिये , तथा अरक्षित वर्ग के लिये उम्र में छूट दी जाती है .

PCS Ke Liye Subject

PCS में पूछे जाने वाल प्रश्न इन विषयों पर सबसे ज्यादा पूछे जाते  .

  • कृषि .
  • अर्थशास्त्र .
  • गणित .
  • इतिहास .
  • भूगोल .
  • भौतिकी .
  • रसायन विज्ञान .
  • जीवविज्ञान .
  • वनस्पति विज्ञान .
  • कानून .
  • सामाजिक विज्ञान .
  • पशुपालन और चिकित्सा विज्ञान .
  • दर्शनशास्त्र .
  • प्रबंधन .
  • संविधान .

PCS Ka Syllabus

PCS का syllabus सभी exam के लिये अलग – अलग है

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

इस परीक्षा के pattern में राज्य सेवा आयोग ने कुछ संसोधन किया है जो इस प्रकार है .

PCS की प्रारंभिक परीक्षा मेंसमान्य अध्यन के 200-200 अंकों के चार पेपर आएँगे जो की total 800 अंकों का होगा . हिन्दी और निबंध के question पेपर 150-150 अंकों के रहेंगे . Objective Subject के अंतर्गत एक ही Objective Subject होगा . Objective Subject में 200-200 अंकों के दो question पेपर रहेंगे . Objective Subject में चिकित्सा विज्ञान को सम्मिलित किया गया है .

  1. Question Paper
सामान्य अध्ययन
  • प्राचीन भारत .
  • मध्यकालीन भारत .
  • आधुनिक भारत .
  • राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएं .
  • भारतीय धार्मिक आन्दोलन .
  • भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन .
  • भारत और विश्व भूगोल .
  • भारतीय राज व्यवस्था और प्रशासन संविधान .

2 Question Paper

  • 10वी क्लास के स्तर तक की प्रारंभिक गणित, अंक-गणित, बीज-गणित, ज्यामिति और सांख्यिकी .
  • 10वी क्लास के स्तर तक की सामान्य अंग्रेजी .
  • सामान्य तर्कशक्ति अध्ययन .
  • कम्युनिकेशन स्किल्स और इंटरपर्सनल स्किल्स .
  • तर्कशक्ति और विश्लेषण क्षमता .
  • निर्णय क्षमता और समस्या हल .
  • सामान्य मानसिक योग्यता .

मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

संसोधन होने के बाद इस exam का pattern कुछ इस प्रकार है

  • हिंदी – 150 अंक .
  • निबंध – 150 अंक .
  • सामान्य अध्ययन 1 – 200 अंक .
  • सामान्य अध्ययन 2 – 200 अंक .
  • सामान्य अध्ययन 3 – 200 अंक .
  • सामान्य अध्ययन 4 – 200 अंक .
  • वैकल्पिक विषय पेपर (Objective Subject) 1 – 200 अंक .
  • वैकल्पिक विषय पेपर 2 – 200 अंक .

Interview

संसोधन के बाद अब साक्षात्कार 100 अंको का होगा , पहले 200 अंको का होता था . साक्षात्कार में किसी विषय पर आपके विचार, विपरीत स्थितियों में निर्णय लेने की क्षमता और नेतृत्व क्षमता का परीक्षण किया जाता है, आपको वर्तमान में घटित होनें वाली घटनाओ से सम्बंधित जानकारी होनी चाहिए और दिमाग में यह स्पष्ट होना चाहिए कि वे इस सर्विस में क्यों आना चाहते हैं, साक्षात्कार में अभ्यर्थियों के व्यक्तित्व का परीक्षण होता है, जिसमें आपके बायोडाटा और सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं, इसलिए अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के दौरान आत्म-विश्वास बनाए रखना चाहिए और सभी प्रश्नों का जवाब सीधा – सीधा देने की कोशिश करना चाहिये .

PCS Post Details

PCS के सभी पोस्ट के बारे में जानते है

  • Assistant Account Officer (Treasury) .
  • Assistant Commissioner (Commercial Tax) .
  • Assistant Registrar (Corporate Office) .
  • Block Development Officer (BDO) .
  • Commercial Tax Officer .
  • District Monitor Welfare Officer .
  • District Food Marketing Officer .
  • Deputy Superintendent Of Police .
  • Deputy Collector .
  • Executive Officer (Panchayati Raj) .
  • Executive Officer (Nagar Vikas) .
  • Nayab Tehsildar .

PCS Ki Salary

एक PCS Officer की Salary लगभग 20,000 से 70,000 होती है . इसके अतिरिक्त रहने के लिए भवन, वाहन तथा आवश्यकतानुसार कर्मचारी भी होते है .

IAS Aur PCS me Antar (Difference Between IAS And PCS )

IASPCS
1. एक IAS अधिकारी संघ लोक सेवा द्वारा आयोजित अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा द्वारा आयोजित किये जाते है .जबकि यह राज्य सेवा आयोग के द्वारा आयोजित राज्य सिविल सेवा परीक्षा के द्वारा आयोजित किये जाते है .
2. यह परीक्षा तीन चरणों प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार में आयोजित की जाती है प्रश्नों की मूल आकृति तथ्यात्मक की तुलना में अधिक औपचारिक होती है .यह परीक्षा भी तीन चरणों प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार में आयोजित की जाती है लेकिन इसमें वैचारिक की बजाय तथ्यात्मक पहलुओं पर ज्यादा जोर दिया जाता है .
3. एक IAS अपना करियर SDM के रूप में शुरू कर सकता है और भारत सरकार के सचिव तक पहुंच सकता है .एक PCS अधिकारी राज्य सेवा नियमों के आधार पर अपना करियर शुरू करता है एक PCS अधिकारी का Promotion IAS अधिकारी के Promotion से धीमी होती है .
4. इनका वेतन और पेंशन कैडर राज्य देता है। चाहे ये किसी भी राज्य में सेवा दे रहे हों पूरे देश में इसका वेतनमान एकसमान होता है . इनका वेतन और पेंशन पूरी तरह से राज्य सरकार के हाथों में होता है। ये जिन राज्यों में सेवा दे रहे होते हैं उनके अनुसार इनका वेतनमान अलग हो सकता है .
5. Services Join करने के बाद एक IAS अधिकारी को जिला कलेक्टर बनने में 5-7 साल लग सकते है .जबकि एक PCS अधिकारी को IAS के रूप में उच्च पद तक पहुँचने में 15-17 साल लग सकते है और वह इससे पहले भी सेवानिवृत्त हो सकते है .

Conclusion

दोस्तों आज हमने जाना PCS के बारे में PCS kya hai , PCS full form In Hindi क्या है ,PCS कैसे बने , PCS क तैयारी कैसे करे , PCS के लिये योग्यता क्या है , PCS के syllabus क्या है , PCS के लिये उम्र क्या है , PCS और IAS में क्या अंतर है , PCS exam से सबन्धित और भी जरुरी जानकारी को हमने जाना .

उम्मीद करते है आपको PCS full form In Hindi क्या है , PCS Exam कैसे दें ये सभी ये जानकारी पूरी तरह से समझ में आ गया होगा . यदि आपका इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप comment box में comment कर सकते है , हम आपके सवालों के जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे .

यह भी जानें…

दोस्तों आपको PCS full form In Hindi क्या है PCS kya hai , और PCS से सम्बंधित सभी जानकारी कैसी लगी और यदि आपका कोई सुझाव हो तो हमे comment करके जरुर बतायें और यदि आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Social Media पर शेयर जरुर करें .

Related posts

IIT Full Form in Hindi / IIT Kya Hai / IIT Kaise Kare

Narendra

RAW Agency Full Form / RAW Agent Kaise Bane

Narendra

Google Full Form In Hindi / What is Google in Hindi

Narendra

Leave a Comment