BAMS Full Form In Hindi / BAMS Kya hai / Syllabus

BAMS Kya Hai, BAMS Full Form In Hindi, Exam Syllabus, Salary – दोस्तों आज हम जानेंगे बीएएमएस के कोर्स के बारे में , बीएएमएस क्या है , बीएएमएस कैसे करे , बीएएमएस करने के लिये क्या योग्यता होनी चाहिये ,बीएएमएस का चयन प्रक्रिया क्या है , बीएएमएस कितने वर्ष का कोर्स है , बीएएमएस करने के बाद क्या करे , बीएएमएस डॉक्टर की salary कितनी होती है , बीएएमएस से सम्बंधित और भी जरुरी जानकारी को हम जानेंगे .

BAMS Full Form In Hindi

BAMS Full Form In Hindi

बीएएमएस का हिन्दी में पूरा नाम

आयुर्वेदिक चिकित्सा और सर्जरी के स्नातक

Full Form Of BAMS

BAMS Full Form in Medical

Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery

BAMS Kya Hai

BAMS आयुर्वेदिक मेडिकल कोर्स के लिए दी जाने वाली अंडरग्रेजुएट डिग्री है . BAMS आयुर्वेद में प्रमाणित एक कोर्स है , जिसमे आधुनिक चिकित्सा और पारंपरिक आयुर्वेद की एकीकृत प्रणाली के अध्ययन को शामिल किया गया है . BAMS कोर्स को Central Council Of Indian Medicine के द्वारा मान्यता दी जाती है . इसमें छात्रों को फार्माकोलॉजी, विषाक्त विज्ञान, ईएनटी, सर्जरी के मानकों , नेचुरल हर्ब्स आदि के द्वारा ट्रीटमेंट करना बताया जाता है .

BAMS Kaise Kare

BAMS Course करने के लिये छात्र को कुछ योग्यताओं के साथ-साथ राज्य या राष्ट्रीय स्तर के बीएएमएस प्रवेश परीक्षा को पास करना आवश्यक होता है .

Qualification For BAMS / शैक्षणिक योग्यता

BAMS कोर्स करने के लिये छात्र को 12वी Physics , Chemistry और Biology विषय से 50% या इससे अधिक अंक के साथ पास होना आवश्यक है .

Age Limit for BAMS / आयु सीमा

BAMS में प्रवेश लेने के के लिए छात्र की न्यूनतम आयु 17 वर्ष होनी चाहिये .

Selection Process for BAMS / चयन प्रक्रिया

BAMS कोर्स में एडमिशन प्रवेश परीक्षा के आधार पर होता है , जोकि All India Entrance Exam के अलावा राज्य स्तर पर विभिन्न प्रकार की प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जाती है , जिसमे कुछ प्रमुख परीक्षाएं इस प्रकार है .

  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ आयुर्वेद एंट्रेंस एग्जाम
  • उत्तराखंड पीजी मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम
  • केरल स्टेट एंट्रेंस एग्जाम
  • कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी), कर्नाटक
  • आयुष एंट्रेंस एग्जाम

इसकी प्रवेश परीक्षा का पाठ्यक्रम बारहवीं पर आधारित होती है .

BAMS Course Details

  • शारीरीक रचना विज्ञान (Physical Anatomy)
  • शल्यक्रिया के शिद्धान्त (Principal of Surgery)
  • आँख की चिकित्सा (Ophthalmology)
  • रोगों से बचाव तथा सामाजिक चिकित्सा
  • शारीरीक क्रिया विज्ञान (Physiology)
  • चिकित्सा के सिद्धान्त (Principal of Therapy)
  • फर्माकोलोजी (Pharmacology)
  • फोरेंसिक चिकित्सा (Forensic Medical)
  • विषविज्ञान (Toxicology)
  • कान नाक गले की चिकित्सा

BAMS Course Duration

BAMS के 5 वर्ष 6 महीने के इस कोर्स में 4 वर्ष 6 महीने आपको अकादमिक शिक्षा प्राप्त करनी होती है , और एक वर्ष की आपकी internship होती है .

BAMS Ki Fees

BAMS का कोर्स करने में लगभग 3 से 5 लाख तक फ़ीस लगती है .

BAMS Syllabus In Hindi

सेक्शन- 1 – एक वर्ष

इसमें 5 विषय होते है

  1. क्रिया शरीर
  2. संस्कृत
  3. मौलिक सिद्धांत एवं अष्टांग हृदयं
  4. रचना शरीर
  5. पदार्थ विज्ञान एवं आयुर्वेद का इतिहास

सेक्शन- 2 – एक वर्ष

इसमें 4 विषय होते है

  1. रसशास्त्र और भैषज्य कल्पना
  2. अगद तंत्र, व्यवहार आयुर्वेद और विधि वैद्यक
  3. चरक संहिता (पूर्वार्ध खंड 1)
  4. द्रव्यगुण विजनन

सेक्शन- 3 – एक वर्ष

इसमें 5 विषय होते है

  1. रोग निदान एवं विकृति विज्ञान
  2. चरक संहिता (पूर्वार्ध खंड 2)
  3. स्वस्थ वृत और योग
  4. कुमार भृत्य (बाल रोग)
  5. प्रसूति तंत्र एवं स्त्री रोग

सेक्शन- 4 – एक वर्ष

इसमें 5 विषय होते है

  1. कायाचिकित्सा (मानस रोग, रसायन और वाजीकरण सहित)
  2. शल्य तंत्र
  3. पंचकर्म
  4. शालाक्य तंत्र
  5. रिसर्च मेथोडोलॉजि और मेडिकल स्टेटिस्टिक

Internship – एक वर्ष

अकादमिक शिक्षा पूरी करने के बाद आपकी एक साल की internship होती है

Department (विभाग)  Duration (अवधि)
बाल चिकित्सा 1 महिना
पंचकर्म 1 महिना
प्रसूति तंत्र एवं स्त्री रोग 2 महिना
शल्य तंत्र  2 महिना
शालाक्य तंत्र 2 महिना
काया-चिकित्सा 4 महिना

BAMS ke Baad Kya Kare

BAMS Course करने के बाद छात्रों के पास नौकरी के कई अवसर होते है , जिसके जॉब प्रोफाइल के बारे में बताया गया है .

BAMS के आड़ जॉब प्रोफाइल

  • Ayurvedic Supervisors
  • Teacher
  • Nurse
  • Therapist
  • Consultants
  • Researcher
  • Kaya Chikitaka
  • Nutrition Expert
  • Shalya Chikitaka
  • Production Manager
  • Medical Officer

BAMS के बाद नौकरी

  • Pancha Karma (Massage) Centers
  • Hospitals
  • Educational Institutes
  • Medical Tourism
  • Private Practice
  • Herbal Product Manufactures
  • Health Centers

BAMS Salary In india

BAMS कोर्स करने के बाद डॉक्टर्स का वेतन उनके पोस्ट के अनुसार अलग-अलग हो जो लगभग 3 लाख से 10 लाख वार्षिक होता है .

Conclusion

दोस्तों आज हमने जाना BAMS कोर्स के बारे में BAMS Full Form In Hindi , BAMS Kya hai , बीएएमएस कैसे करे , बीएएमएस करने के लिये क्या योग्यता होनी चाहिये ,बीएएमएस का चयन प्रक्रिया क्या है , बीएएमएस कितने वर्ष का कोर्स है , बीएएमएस करने के बाद क्या करे , बीएएमएस डॉक्टर की salary कितनी होती है , बीएएमएस से सम्बंधित और भी जरुरी जानकारी को हमने जाना .

यह भी जानें…

  1. MBBS क्या है , MBBS full form क्या है , MBBS कोर्स कैसे करे .

उम्मीद करते है आपको BAMS Kya hai , BAMS Full Form In Hindi क्या है और BAMS कोर्स से से सम्बंधित सभी जानकारी पूरी तरह से समझ गए होंगे , यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल या कोई सुझाव है , तो हमे comment करके जुरूर बतायें .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *